मुक्ति के लिए आजमाएं ये 5 तरीके

फंस गए कर्ज के जाल में, 

Surya-Pratap Singh

www.digtalsachin .in

बिना सोचे-समझे शॉपिंग करने की आदत या बिना किसी खास मकसद के लोन लेने की आदत से कोई भी कर्ज की जाल में फंस सकता है. इससे आपकी इनकम समझ में नहीं आती और आप कर्ज के जाल में फंसे रहते हैं. ऐसे में अगर आप अपने एसेट्स को बढ़ाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपको अपने पुराने कर्ज को खत्म करना होगा. हालांकि, यह काम इतना आसान नहीं होता और इसके लिए आपको बहुत सोच-समझकर रणनीति बनानी होती है.

www.DigtalSachin.in

1. इनकम और कुल लोन या क्रेडिट का एस्टिमेट तैयार करिए

यह सबसे पहला और अहम पड़ाव है. आपको सबसे पहले अपने कुल इनकम और कुल लोन को कैलकुलेट करना चाहिए. इससे आपको यह अंदाजा लग जाता है कि आप किस प्रकार लोन का पेमेंट कर सकते हैं.

www.DigtalSachin.in

2. सबसे पहले क्रेडिट कार्ड के कर्ज को निपटाइए

क्रेडिट कार्ड से हम आसानी से किसी भी तरह का ट्रांजैक्शन कर पाते हैं. लेकिन क्रेडिट कार्ड का पेमेंट समय पर नहीं करने पर वह एक बड़ी मुसीबत बन जाती है. इसकी वजह यह है कि क्रेडिट कार्ड का पेमेंट समय नहीं करने पर हमें काफी ज्यादा इंटरेस्ट रेट से ब्याज का पेमेंट करना होता है. इतना ही नहीं आपको ज्यादा पेनाल्टी भी देना पड़ता है......

www.DigtalSachin.in

इससे आपके सिबिल स्कोर या क्रेडिट स्कोर पर भी असर देखने को मिलता है. अगर ऐसा है तो आपको किसी दोस्त, रिश्तेदार से उधार लेकर सबसे पहले क्रेडिट कार्ड का कर्ज चुकाना चाहिए. अगर ऐसा नहीं हो पाता है तो आप पर्सनल लोन लेकर एकसाथ सभी बिल को क्लियर कर सकते हैं. क्रेडिट कार्ड के इंटरेस्ट की तुलना में पर्सनल लोन काफी कम दरों पर मिल जाता है.

www.DigtalSachin.in

3. हमेशा क्रेडिट कार्ड के पूरे बिल का करिए पेमेंट

किसी भी व्यक्ति को क्रेडिट कार्ड के पूरे बिल का पेमेंट करना चाहिए. आप केवल मिनिमम बैलेंस पे करते रहेंगे तो आप कर्ज के जाल में पूरी तरह फंस जाएंगे. ऐसे में हमेशा से पूरे बिल का भुगतान किए जाने की सलाह दी जाती है.

www.DigtalSachin.in

4. गैर-जरूरी खर्चों में लाइए कमी

आप अगर यह महसूस करते हैं कि आपका खर्च आपके इनकम से ज्यादा है तो आपको तत्काल अपना बजट बनाना चाहिए. इसमें आपको गैर-जरूरी खर्चों की पहचान करना चाहिए. आपको यह देखना चाहिए कि किस खर्चे को आप आगे के लिए टाल सकते हैं. इससे आपको अपने बिना मतलब के खर्च में कमी लाने में मदद मिलेगी.

www.DigtalSachin.in

5. रिपेमेंट का प्लान बनाइए

अगर आपका कर्ज अलग-अलग जगहों से है तो सबसे पहले कोशिश बैलेंस ट्रांसफर की करनी चाहिए. आपको सबसे कम इंटरेस्ट रेट पर लोन देने वाले लेंडर के पास सभी लोन को ट्रांसफर करना चाहिए. इसके अलावा आप ऐसी प्रोपर्टीज को बेचने के बारे में सोच सकते हैं जो आपके काम का नहीं है या जिससे किसी तरह की इनकम जेनरेट नहीं होती है.

www.DigtalSachin.in

DhanyaWaaad !!

Thanks For Reading !!

www.DigtalSachin.in