Www.digtalsachin.in

Surya-Pratap Singh

Web Story

कोरोना की वैक्सीन कितने दिन कर सकती है बचाव? लैंसेट की ये स्टडी बढ़ा देगी चिंता

OMICORN

Health

क्या कहती है स्टडी-
ये स्टडी एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन ले चुके स्कॉटलैंड के 20 लाख लोगों और ब्राजील के 4.2 करोड़ लोगों पर किए गए शोध पर आधारित है. शोधकर्ताओं ने कहा कि स्कॉटलैंड में दूसरी डोज लेने के दो हफ्ते बाद की तुलना में डोज लेने के 5 महीने बाद अस्पताल में भर्ती या कोरोना से मरने वालों की संख्या में लगभग पांच गुना वृद्धि पाई गई थी

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

उन्होंने कहा कि वैक्सीन की प्रभावशीलता में लगभग तीन महीनों के बाद ही गिरावट दिखाई देने लगती है. दूसरी डोज के दो सप्ताह बाद की तुलना में तीन महीने बाद अस्पताल में भर्ती होने और मौत का खतरा दोगुना हो जाता है.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

स्कॉटलैंड और ब्राजील के शोधकर्ताओं ने पाया कि वैक्सीन की दूसरी डोज लेने के चार महीने बाद इसका असर और कम हो जाता है और शुरुआती सुरक्षा की तुलना में अस्पताल में भर्ती होने और मौत का खतरा करीब तीन गुना बढ़ जाता है. उन्होंने कहा कि ब्राजील में भी इसी तरह का आंकड़ा देखा गया है.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

ब्रिटेन के एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर अजीज शेख ने कहा, 'महामारी से लड़ने में वैक्सीन बहुत जरूरी है लेकिन उनकी प्रभावशीलता में कमी चिंता का विषय है. ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की प्रभावशीलता में पहली बार गिरावट कब शुरू होती है, इसकी पहचान करके, बूस्टर प्रोग्राम तैयार करना चाहिए ताकि अधिकतम सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

शोधकर्ताओं के अनुसार वैक्सीन की प्रभावशीलता कम होने का असर नए वैरिएंट पर भी पड़ने की संभावना है.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

हालांकि, विशेषज्ञों ने चेतावनी दी कि इन आंकड़ों को सावधानी के साथ समझना चाहिए क्योंकि वैक्सीन ना लगवाने वालों की तुलना वैक्सीन लगवाने वालों से करना कठिन है.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

खासतौर से ज्यादातर बुजुर्ग अब वैक्सीनेटेड हो चुके हैं. ग्लासगो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर श्रीनिवास विट्टल कातिकिरेड्डी ने कहा, 'स्कॉटलैंड और ब्राजील दोनों के डेटा विश्लेषण से पता चलता है कि COVID-19 से सुरक्षा में ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की प्रभावशीलता में काफी कमी आई है.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

हमारा काम बूस्टर के महत्व पर प्रकाश डालना है, भले ही आपने ऑक्सफोर्ड एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की दोनों डोज लगवा ली हो.

Surya-Pratap Singh

Www.digtalsachin.in

Health

Web Story

Stay Updated
With Us!